360 मनोरंजन

मोबाइल भरेगा आपके जीवन मे रंग ओर उमंग

अगर आप कहीं खाली बैठे बैठे बोर हो रहे हैं। तो मोबाइल आपकी उकताहट को दूर करने में आपकी सहायता करेगा। इसके अंदर आप वीडियो गेम खेल सकते हैं। अगर वीडियो गेम्स में भी आपकी रुचि नहीं है तो आप अपनी मनपसंद फिल्म देख सकते हैं। उसमें भी रुचि नहीं है तो आप एक काम कर सकते हैं। अपने मोबाइल में यूट्यूब ओपन करें, और सर्च करें “सास बहू के झगड़े” कसम से यहाँ आपको ‘टू मच फन’ मिलेगा।

ओर अनगिनत फायदे जानिए

मोबाइल के साथ इंटरनेट का उचित तालमेल करें तो होगा चमत्कार; जब मोबाइल नहीं था और हमने मोबाइल की कल्पना भी नहीं की थी। खासकर ऐसे मोबाइल की जिसमे एक कैमरा होगा, जिसमे बटन नहीं होंगे, टच स्क्रीन का स्मरण तो बहुत दूर की बात है। टच से चलने वाले फोन भी होते हैं, ये बात हमने 2010 में सुनी थी और अपने कानों पर विश्वास नही हुआ था। इंटरनेट का नाम तो सुना था लेकिन ये नहीं पता था कि मोबाइल द्वारा इंटरनेट का आनंद लिया जा सकता है।

हम इसे कम्यूटर से जोड़कर देखते थे। वो कम्यूटर जिसका लगभग 20 किलो का मॉनिटर और 10 किलो का CPU होता था। वो कम्यूटर जो तब ही चलता था जब गाँव में बिजली आती थी। और बिजली का ये स्टेटस था कि आज 10 मिनट को आयी अब अगले हफ्ते आएगी। ऐसे दौर में इंटरनेट को मोबाइल ने हवा दी। आज 10 मिनट की बिजली द्वारा 40 मिनट इंटरनेट सर्फिंग कर सकते हैं। इंटरनेट ने इंसान की जिंदगी में सबसे बड़ा बदलाव किया। इंटरनेट के बिना आधुनिकता असम्भव है। इंटरनेट टेक्नोलॉजी की दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण पहलु है। इंटरनेट जिसने पूरी दुनिया के इंसानों को किसी न किसी तरह एक दुसरे से जोड़ा हुआ है।

हजारो मेगाबाइट्स की फ़ाइल को वाशिंगटन से किठौर तक आने में 1 सेकेण्ड से भी कम का समय लगता है। इंटरनेट ऐसा माध्यम जिसके द्वारा हम दुनिया के किस टापू पर क्या गतिविधियां चल रही हैं का पता लगा सकते हैं। आपको कुछ नहीं समझ आ रहा है तो गूगल की मदद ले सकते हैं, अपने किसी अमेरिका में बैठे परिचित से वीडियो कॉलिंग पर घण्टों बातें बना सकते हैं। ये साधारण सी बात है। लेकिन शायद आप ये नहीं जानते कि इस इंटरनेट द्वारा आप प्रतिमाह लाखों रूपियों की कमाई कर सकते हैं। सोशल मीडिया साइट्स के साथ जुड़कर हिंदुस्तान के आज लाखों लोग विज्ञापन के क्षेत्र में सफलता की सीढ़ियां चढ़ रहे हैं।

आप सोशल साइट्स पर खुदके ब्लॉग्स लिखकर पैसा बना सकते हैं। वो भी ऐसे विषय पर जिसमे आपको रुचि है। यूट्यूब और फेसबुक जैसी बड़ी बड़ी साइट्स के अलावा और बहुत सारी विज्ञापन कंपनियां हैं जो सोशल मीडिया पर कैम्पेन चलाती हैं, क्योंकि अब रेडियो की तरह टेलीविजन को अलविदा कहने का वक़्त आ गया है। आने वाला दौर सोशल मीडिया का है। और ये सब हुआ मोबाइल फोन की वजह से। लोगो द्वारा मोबाइल प्रयोग करने की वजह से फेसबुक के इस वक़्त 2.234 बिलियन यूज़र और यूट्यूब के 1.8बिलियन यूज़र हैं। विकिपीडिया के अनुसार यूट्यूब विज्ञापन के लिए बैंडविथ पर प्रतिदिन लगभग 1 मिलियन अमेरिकी डॉलर यानी लगभग 74 करोड़ रुपये खर्च करता है। अब आप अंदाजा लगा सकते हैं कि 74 करोड़ सिर्फ बैंडविथ पर खर्च करने वाली कम्पनी से आप कितना फायदा उठा सकते हैं। हालांकी विज्ञापन के क्षेत्र में फेसबुक का रेट यूट्यूब से दोगुना है। यानी आप फेसबुक द्वारा यूट्यूब से दो गुनी कमाई कर सकते हैं। वो भी सिर्फ अपने मोबाइल के द्वारा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *